Media

व्हाईट हाउस को सफेद झूठ में बदलने वाले ट्रंप का झूठवाद अमर रहे – रवीश कुमार

, , No Comment

ट्रंप कितना झूठ बोलते हैं, इसका हिसाब रखने वाला भी खलिहर होगा। वाशिंगटन पोस्ट के दफ्तर में स्टूल पर बिठा दिया होगा कि लो गिनो कि राष्ट्रपति कितना झूठ बोलते हैं। अब उसने गिन दिया…

Read Post →

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार के बेटे का विदेशों में काले धन का कारख़ाना – कैरवां की रिपोर्ट

, , No Comment

डी-कंपनी का अभी तक दाऊद का गैंग ही होता था। भारत में एक और डी कंपनी आ गई है। राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल और उनके बेटे विवेक और शौर्य के कारनामों को उजागर करने…

Read Post →

किसानों की कर्ज माफी पर हंगामा, बैंकों को एक लाख पर चुप्पी क्यों – रवीश कुमार

, , No Comment

क्या आपको पता है कि बैंकों को फिर से 410 अरब रुपये दिए जा रहे हैं? वित्त मंत्री जेटली ने संसद से इसके लिए अनुमति मांगी है। यही नहीं सरकार ने बैंकों को देने के…

Read Post →

दस दिन नहीं दस घंटे के भीतर कर्ज माफी ऐलान का मतलब – पुण्य प्रसून बाजपेयी

, , No Comment

ना मंत्रियों का शपथ ग्रहण ना कैबिनेट की बैठक। सत्ता बदली और मुख्यमंत्री पद की शपथ लेते ही किसानो की कर्ज माफी के दस्तावेज पर हस्ताक्षर कर दिये। ये वाकई पहली बार है कि राजनीति…

Read Post →

रवीश कुमार: 35 लाख लोगों की नौकरी गई और विज्ञापन पर खर्च हुआ 5000 करोड़

, , No Comment

उन 35 लाख लोगों को प्रधानमंत्री सपने में आते होंगे, जिनके एक सनक भरे फैसले के कारण नौकरियां चली गईं। नोटबंदी से दर-बदर हुए इन लोगों तक सपनों की सप्लाई कम न हो इसलिए विज्ञापनों…

Read Post →

जनादेश ने लोकतंत्र के चौराहे पर खड़ा दिया साहेब को – पुण्य प्रसून बाजपेयी

, , No Comment

आसान है कहना कि 2014 में उगा सितारा 2019 में डूब जायेगा। ये भी कहना आसान है पहली बार किसान-मजदूर – बेरोजगारी के समुद्दे सतह पर आये तो शहरी चकाचौंध तले विकास का रंग फिका…

Read Post →