Tagged By Punya Prasun Bajpai

दस दिन नहीं दस घंटे के भीतर कर्ज माफी ऐलान का मतलब – पुण्य प्रसून बाजपेयी

, , No Comment

ना मंत्रियों का शपथ ग्रहण ना कैबिनेट की बैठक। सत्ता बदली और मुख्यमंत्री पद की शपथ लेते ही किसानो की कर्ज माफी के दस्तावेज पर हस्ताक्षर कर दिये। ये वाकई पहली बार है कि राजनीति…

Read Post →

जनादेश ने लोकतंत्र के चौराहे पर खड़ा दिया साहेब को – पुण्य प्रसून बाजपेयी

, , No Comment

आसान है कहना कि 2014 में उगा सितारा 2019 में डूब जायेगा। ये भी कहना आसान है पहली बार किसान-मजदूर – बेरोजगारी के समुद्दे सतह पर आये तो शहरी चकाचौंध तले विकास का रंग फिका…

Read Post →

न राजधर्म निभाया, न धर्मसभा की मानेगें – पुण्य प्रसून बाजपेयी

, , No Comment

जयपुर के पांडे मूर्त्तिवाले। वैसे पूरा नाम पंकज पांडे है, लेकिन पहचान यही है जयपुर के पांडे मूर्त्तिवाले। और इस पहचान की वजह है कि देश भर में जहा भी प्रमुख स्थान पर भगवान राम…

Read Post →

जरा सोचिए! जब मेनस्ट्रीम मीडिया को कोई देखने-सुनने वाला नहीं होगा – पुण्य प्रसून बाजपेयी

, , No Comment

क्या पत्रकारिता की धार भोथरी हो चली है। क्या मीडिया – सत्ता गठजोड ने पत्रकारिता को कुंद कर दिया है। क्या मेनस्ट्रीम मीडिया की चमक खत्म हो चली है। क्या तकनालाजी की धार ने मेनस्ट्रीम…

Read Post →

संघ कौवे के पीछे भाग रहा है और बीजेपी रिजल्ट बाद की रणनीति बनाने में जुटी है

, , No Comment

होना तो यही चाहिये था कि संघ अपने कान को देखता लेकिन वह भी कौवे के पीछे ही भाग रहा है। चाय की चुस्की और कई मुद्दो पर लंबी चर्चा के बीच जब स्वयसेवक महोदय…

Read Post →

अयोध्या की धर्म सभा और बनारस की धर्म संसद के बीच जा फंसी सियासत

, , No Comment

इधर अयोध्या उधर बनारस। अयोध्या में विश्व हिन्दु परिषद ने धर्म सभा लगायी तो बनारस में शारदा ज्योतिष पीठ के शंकराचार्य स्वामी स्वरुपानंद सरस्वती ने धर्म संसद बैठा दी। अयोध्या में विहिप के नेता-कार्यकत्ता 28…

Read Post →